महान इंजीनियर विश्वेश्वरैया प्रेरक प्रसंग Visvesvaraya in Hindi

0
117

महान इंजीनियर विश्वेश्वरैया प्रेरक प्रसंग

Visvesvaraya in Hindi

Visvesvaraya in Hindi

Visvesvaraya in Hindi. विश्वेश्वरैया का जन्म  15 सितंबर 1861 कर्नाटक (मैसूर ) के कोलार जिले के चिक्काबल्लापुर तालुक में एक तेलुगु परिवार में हुआ था।विश्वेश्वरैया बचपन से ही मेधावी थे इन्होने मैसूर सरकार मदद से इंजिनियरिंग की परीक्षा पास की तथा बाद में महाराष्ट्र सरकार में अपनी सेवा दी इंजिनियर डे या अभियंता दिवस इन्ही की याद में मनाया जाता हैं इनके द्वारा देश के प्रति दी गई सेवाओं के कारण इन्हें भारत रत्न से भी सम्मानित किया गया थाआज की पोस्ट में इन्हीं के जीवन से सम्बंधित कुछ प्रेरक घटनाएँ प्रकाशित की जा रही हैं जिन्हें पढ़कर हम लाभान्वित हो सके

एक बार विश्वेश्वरैया रेलगाड़ी से सफ़र कर रहे थे वे जिस डिब्बे में बैठे थे उसी डिब्बे में कुछ अंग्रेज भी बैठे थे विश्वेश्वरैया अपने विचारों में मगन थेअचानक ही वे बैचन हो गये गंभीरता पूर्वक कुछ सोचने लगे और फिर तेजी से उठे और रेलगाड़ी को रोकने के लिए जंजीर खीचने लगे वहां बैठे यात्रियों ने उन्हें बहुत मना किया लेकिन वे नही रुके और उन्होंने जंजीर खीच दी

कुछ ही देर में रेलगाड़ी का गार्ड उस डिब्बे में आया, उनसे गाड़ी रोकने के बारें में पूछाइस परविश्वेश्वरैया ने जवाब दिया कि आगे रेल की पटरी या तो टूटी हुई है या ख़राब हैं ड्राईवर को यहाँ से गाड़ी धीरे -धीरे चलानी चाहिए अन्यथा गाड़ी पलट सकती हैं

वहां बैठे लोग उन्हें पागल समझने लगेलेकिन पता नहीं क्यों रेल के गार्ड ने उनकी बातों विश्वास कर लिया और ये बात रेल के ड्राईवर को बताई ड्राईवर ने गाड़ी अब धीरे-धीरे चलाई और कुछ दूरी पर चलने के बाद उन्होंने पाया की रेल की पटरी वास्तव में टूटी हुई हैयदि रेलगाड़ी की रफ़्तार अधिक होती तो वो पलट सकती थी

इस पर वहां बैठे व्यक्तियों ने उन्हें अपनी जान  बचाने के लिए धन्यवाद दिया और पूछा कि क्या आप ज्योतिषी है जो आप को आगे के घटना के बारे में पता चल गयाइस पर विश्वेश्वरैया ने कहा नहीं भाइयों में कोई ज्योतिषी नहीं हूँ पर में हर बात गंभीरता से सोचता और परखता हूँ जब रेल गाड़ी चल रही थी तो अचानक ही इसकी पटरियों से आने वाली आवाज बदल रही थीजो इस बात का संकेत था की निश्चित ही पटरियां आगे चलकर ठीक नहीं हैं

तो दोस्तों यदि हम अपने जीवन की सामान्य घटनाओं पर विचार विमर्श करके उन्हें जानने और समझने का प्रयास करे तो अपने जीवन में घटित होने वाली बहुत से घटनाओं का पूर्वानुमान लगा सकते हैं

For More Read – महान व्यक्तियों के जीवन के प्रेरक प्रसंगों का विशाल संग्रह
Similar Post-

—————————————————————

दोस्तों महान इंजीनियर विश्वेश्वरैया प्रेरक प्रसंग Visvesvaraya in Hindi | में दी गई जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया हमारे फेसबुक(Facebook) को Like & Share अवश्य करें। 

हमारे द्वारा दी गई जानकारी में कुछ त्रुटी लगे या कोई सुझाव हो तो comment करके सुझाव हमें अवश्य दें।हम इस पोस्ट को update करते रहेंगें।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here