मोटिवेशनल शायरी Top Motivational shayari in hindi

0
807
Top Motivational shayari in hindi
Top Motivational shayari in hindi
नजर को बदलो तो नजारे बदल जाते है ,
सोच को बदलो तो सितारे बदल जाते है।
कश्तियाँ बदलने की जरूरत नहीं ,
दिशा को बदलो तो किनारे ख़ुद ब खुद बदल जाते है।।

¤ ¤ ¤

संघर्ष में आदमी अकेला होता है।
सफलता में दुनिया उसके साथ होती है।।

¤ ¤ ¤

जिस-जिस पर ये जग हँसा है,
उसीने इतिहास रचा है…

¤ ¤ ¤

सीढियाँ उन्हें मुबारक हो,
जिन्हे सिर्फ छत तक जाना है।
मेरी मंज़िल तो आसमान है,
रास्ता मुझे खुद बनाना है।।

¤ ¤ ¤

हौंसले के तरकश में ,
कोशिश का वो तीर ज़िंदा रख।।
हार जा चाहे ज़िन्दगी में सब कुछ ,
मगर फिर से जीतने की उम्मीद ज़िंदा रख।।

¤ ¤ ¤

बुजी शमा भी जल सकती है,
 तूफानों से कश्ती भी निकल सकती है।
हो के मायूस यूँ ना अपने इरादे बदल,
तेरी किस्मत कभी भी बदल सकती है।।

¤ ¤ ¤

जीत निश्चित हो तो कायर भी लड़ सकते हैं,बहादुर वे कहलाते हैं,

जो हार निश्चित हो,फिर भी मैदान नहीं छोड़ते।

¤ ¤ ¤

 

जो मुस्कुरा रहा है, उसे दर्द ने पाला होगा,

जो चल रहा है उसके पाँव में ज़रूर छाला होगा।

बिना संघर्ष के चमक नहीं मिलती,

जो जल रहा है तिल-तिल, उसी दीए में उजाला होगा।।

 

¤ ¤ ¤

 

थोड़ा धीरज रख,
थोड़ा और जोर लगाता रह।
किस्मत के जंग लगे दरवाजे को,
खुलने में वक्त लगता है।।

¤ ¤ ¤

टूटने लगे हौसले तो ये याद रखना,

बिना मेहनत के तख्तो-ताज नहीं मिलते।

ढूंढ़ लेते हैं अंधेरों में मंजिल अपनी,

क्योंकि जुगनू कभी रौशनी के मोहताज़ नहीं होते।।

¤ ¤ ¤

खोल दे पंख मेरे, कहता है परिंदा, अभी और उड़ान बाकी है,

जमीं नहीं है मंजिल मेरी, अभी पूरा आसमान बाकी है।।

¤ ¤ ¤

लहरों की ख़ामोशी को समंदर की बेबसी मत समझ ऐ नादाँ,

जितनी गहराई अन्दर है, बाहर उतना तूफ़ान बाकी है।।

¤ ¤ ¤

उठो तो ऐसे उठो कि फक्र हो बुलंदी को,
झुको तो ऐसे झुको बंदगी भी नाज़ करे।

¤ ¤ ¤

जिन के होंटों पे हँसी पाँव में छाले होंगे,
वही लोग अपनी मंजिल को पाने वाले होंगे।

¤ ¤ ¤

आये हो निभाने को जब, किरदार ज़मीं पर,
कुछ ऐसा कर चलो कि ज़माना मिसाल दे।

¤ ¤ ¤

जो मुस्कुरा रहा है उसे दर्द ने पाला होगा,
जो चल रहा है उसके पाँव में छाला होगा।
बिना संघर्ष के इन्सान चमक नही सकता,
जो जलेगा उसी दिये में तो उजाला होगा।।

¤ ¤ ¤

डर मुझे भी लगा फासला देख कर,
पर मैं बढ़ता गया रास्ता देख कर।
खुद ब खुद मेरे नज़दीक आती गई,
मेरी मंज़िल मेरा हौंसला देख कर।।

¤ ¤ ¤

हर मील के पत्थर पर लिख दो यह इबारत,
मंजिल नहीं मिलती नाकाम इरादों से।

¤ ¤ ¤

अगर पाना है मंजिल तो,
अपना रहनुमा खुद बनो।
वो अक्सर भटक जाते हैं
जिन्हें सहारा मिल जाता है।।

¤ ¤ ¤

रख हौसला वो मंजर भी आयेगा,
प्यासे के पास चल के समन्दर भी आयेगा।
थक कर न बैठ ऐ मंजिल के मुसाफिर,
मंजिल भी मिलेगी…
और मिलने का मज़ा भी आयेगा।।

प्रमुख शायरों की शायरी यहाँ पढ़े –

—————————————–

दोस्तों मोटिवेशनल शायरी Top Motivational shayari in hindi| में दी गई जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया हमारे फेसबुक(Facebook) को Like & Share अवश्य करें। 

हमारे द्वारा दी गई जानकारी में कुछ त्रुटी लगे या कोई सुझाव हो तो comment करके सुझाव हमें अवश्य दें।हम इस पोस्ट को update करते रहेंगें। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here