वायलिन वादक पेगानिनी : The Story on confidence in hindi

0
267
 The Story on confidence in hindi
The Story on confidence in hindi

The Story on confidence in hindi.दोस्तों आज का यह प्रेरक प्रसंग प्रसिद्द वायलिन वादक पेगानिनी के जीवन से सम्बंधित हैंयह प्रेरक प्रसंग उस समय का हैं जब पेगानिनी बहुत अधिक प्रसिद्द नहीं हुए थेउन्हें छोटे -मोटे संगीत समारोह में ही बुलाया जाता था

एक बार उन्हें एक बहुत बड़े संगीत समारोह में वायलिन बजाने का आमन्त्रण मिलाउन्होंने उस समारोह की तैयारी बहुत ही जोर शोर से की और वायलिन बजाने के रियाज करने का समय भी बढ़ा दिया

आखिर वह दिन आ ही गया| पेगानिनी मंच पर पहुंचे और सभी का अभिवादन कर अपने  आप को एकाग्र करने के लिए आँखे बंद कर ली इसके बाद उन्होंने वायलिन बजाना शुरू कर दिया

वायलिन की धुन इतनी मधुर थी कि सभी श्रोता आँखे बंद कर संगीत का आनंद उठाने लगेतभी अचानक वायलिन का एक तार टूट गयालेकिन पेगानिनी ने इस बात का आभाष किसी को नहीं होने दिया और एकाग्र होकर पुनः वायलिन बजने लगे

कुछ देर बाद दूसरा तार भी टूट गया अब वायलिन में केवल एक तार ही रह गया एक तार से वायलिन का बजाना संभव नहीं थालेकिन श्रोताओं के आग्रह पर एक तार से ही वायलिन बजाना जारी रक्खा

पेगानिनी ने एक तार से ही इतनी मधुर धुन बजाई की सभी मन्त्र मुग्ध होकर सुनते रहे धुन पूरी होने के बाद पूरे हाल के श्रोताओं ने बहुत देर तक करतल ध्वनि करके उनको धन्यवाद दिया

तो दोस्तों यह पेगानिनी अपने आत्म विश्वास के कारण ही एक तार के वायलिन से इतनी मधुर धुन बजा सकायह हमारा आत्म विश्वास ही हैं जो हमें असंभव से दिखने वाले कार्य को करने की न केवल प्रेरणा देता हैं

For More Read – महान व्यक्तियों के जीवन के प्रेरक प्रसंगों का विशाल संग्रह
Similar Post-

————————————————————

दोस्तों वायलिन वादक पेगानिनी : The Story on confidence in hindi| में दी गई जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया हमारे फेसबुक(Facebook) को Like & Share अवश्य करें। 

हमारे द्वारा दी गई जानकारी में कुछ त्रुटी लगे या कोई सुझाव हो तो comment करके सुझाव हमें अवश्य दें।हम इस पोस्ट को update करते रहेंगें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here