महान यूनानी दार्शनिक प्लेटों के जीवन का प्रेरक प्रसंग/ motivational story of plato in hindi

0
306

महान यूनानी दार्शनिक प्लेटों के जीवन का प्रेरक प्रसंग/ motivational story of plato in hindi

एथेंस को देवताओं का शहर माना जाता हैं | वहां अनेक देव मंदिर हैं | एक बार एक देव मंदिर में एक उत्सव था| जिसमे शामिल होने के लिए एथेंस के महान दार्शनिक प्लेटो को भी न्योता आया |

प्लेटों उत्सव में सम्मलित होने के लियें जब देव मंदिर पहुचे तो वहां के द्रश्य देख कर  उनका मन बहुत द्रवित हो गया | वहां उन्होंने देखा कि जो भी व्यक्ति वहां आता, अपने साथ एक पशु लाता और देव प्रतिमा के सामने खड़े होकर उसकी बलि चढ़ाता |

पशु पर जब प्रहार किया जाता तो वह कुछ देर तक तड़फता और मर जाता | यह क्रम लगातार चलता रहा | यह सब देख कर वहां लोग प्रसन्न हो रहे थे और  गीत गा रहे थे ,नृत्य कर रहे थे|

प्लेटों ने ऐसा उत्सव पहली बार देखा था अत : वे दुखी होकर वहां से जाने लगे तो एक व्यक्ति ने उन्हें रोका और कहा मान्यवर कहा जा रहे हो ! आज तो आप को भी देवता को प्रसन्न करने के लिए बलि चढ़ानी होगी, तभी देवता प्रसन्न होगे |

Related: महान दार्शनिक सुकरात (SOCRATES ) के प्रेरक प्रसंग

प्लेटो ने पानी लेकर मिटटी को गीली कर, उससे एक जानवर बना दिया और देवता के सामने रखकर तलवार से उसकी बलि चढ़ा दी | ये देखकर वहा उपस्थित तथाकथित धर्माधिकारियों को उनका वह व्यवहार अच्छा नही लगा |

उन्होंने प्लेटों पर कटाक्ष किया क्या देवता के प्रति आपका यही सम्मान हैं क्या आपका यही बलिदान हैं ?

प्लेटो ने कहा , हां यही बलिदान हैं | मिटटी के बने देवता के लिए मिटटी के बने जानवर की बलि ही उपयुक्त हैं क्योकिं मिटटी का बना देवता खा -पी नहीं सकता , इसलिए निर्जीव भेंट ही उनके लिए उपयुक्त हैं |

धर्माधिकारियों ने उनकी इस बात का प्रतिवाद किया और उन्होंने कहा कि क्या वे सब लोग मुर्ख थे जिन्होंने ये प्रथा चलाई  थी |

इस पर प्लेटों ने मुस्कराते हुए कहा कि जिन्होंने भी यह प्रथा चलाई , उन्होंने पशु नहीं , करुणा की हत्या का प्रचलन शुरू किया था |

अन्य प्रेरक प्रसंग के लिए यहाँ पढ़े

——————————————————–

महान यूनानी दार्शनिक प्लेटों के जीवन का प्रेरक प्रसंग/ motivational story of plato in hindi ये पोस्ट कैसी लगी, कमेंट द्वारा अवश्य बताये | यदि आपके पास भी कोई motivational article/ motivational story हैं और आप उसे हमारे साथ शेयर करना चाहते हैं तो onlinedost4u@gmail.com par भेजें /जिसे आपके नाम व फोटो सहित प्रकाशित किया जायेगा |

Thanku 🙂

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here