कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती King Bruce and the spider story

0
625
Koshish karne walon ki haar nahi hoti - King Bruce and the spider story
Koshish karne walon ki haar nahi hoti – King Bruce and the spider story

Koshish karne walon ki haar nahi hoti – King Bruce and the spider story.दोस्तों जीवन एक खुली पाठशाला है। जहाँ हम दिन प्रतिदिन किसी न किसी घटना से कोई न कोई शिक्षा लेते है, और फिर उसे अपने जीवन में अमल करते हैं। ये घटनाएँ हमारे लिए एक सच्चे पथ प्रदर्शक का कार्य करती हैं। दोस्तों आज की पोस्ट में हम ऐसी ही एक घटना से ले रहे है जो आज से कई सौ वर्ष पूर्व घटित हुई थी। 

ये घटना उस समय की है जब स्कॉटलैंड एक स्वतंत्र राज्य हुआ करता थाजिस पर रॉबर्ट ब्रूस नाम का लोकप्रिय राजा राज्य करता था। उसके राज्य में चारों ओर शांति, सुख सम्रद्धि फैली हुई थीराजा रॉबर्ट ब्रूस अपनी प्रजा के हितों का बहुत ध्यान रखता था। इसलिए उसकी प्रजा भी उससे बहुत प्रेम करती थी। 

तभी एक दिन इंग्लैंड के राजा ने स्कॉटलैंड पर आक्रमण कर दिया। दोनों सेनाओं में भयंकर युद्ध हुआ। इंग्लैंड के सेना शक्तिशाली थी इसलिए रॉबर्ट ब्रूस की हार हो गई और रॉबर्ट ब्रूस को युद्ध क्षेत्र छोड़कर भागना पड़ा। स्कॉटलैंड पर इंग्लैंड का कब्ज़ा हो गया। 

रॉबर्ट ब्रूस ने हार नहीं मानी वह अपने राज्य को आजाद कराना चाहता था। कुछ दिनों बाद उसने अपनी सेना पुनः एकत्र की और इंग्लेंड की सेना पर आक्रमण कर दिया लेकिन उसे हार का सामना करना पड़ा। 

रॉबर्ट ब्रूस ने ये प्रयास लगभग 14 बार किया परन्तु हर बार उसे हार का सामना करना पड़ा। अब वह पूरी तरह से शरीर और मन से टूट चूका था। उसका मनोबल तो मानों ख़त्म ही हो गया था। उसे लगने लगा था कि वह अब अपने राज्य को कभी भी आजाद नही करा पायेगा। 

एक दिन वह एक गुफा में छिपा हुआ था। उसने देखा की एक मकड़ी गुफा के छत पर जाला बुनने का प्रयास कर रही थी। वह बार- बार गुफा की छत पर चढ़ती और फिसल कर नीचे गिर जाती। यह क्रम लगातार चलता रहारॉबर्ट ब्रूस बहुत ही ध्यान से यह सब देख रहा था। एक समय ऐसा भी आता है। जब मकड़ी छत पर चढ़कर जाला बुनने में कामयाब हो जाती है। 

यह सब देखकर राजा रॉबर्ट ब्रूस सोचने लगा कि क्या वह मकड़ी से भी गया गुजरा है। जब उसने हार नहीं मानी तो वह तो फिर भी एक राजा हैं। वह उत्साह से उठ खड़ा हुआ। उसने अपनी सेना को पुनः एकत्र किया और युद्ध लड़ाइस युद्ध में राजा रॉबर्ट ब्रूस की मानसिकता पूरी तरह से बदली हुई थी। रॉबर्ट ब्रूस ने युद्ध में जीत हासिल की और अपना खोया हुआ राज्य व सम्मान पुनः प्राप्त किया। 

दोस्तों इसी प्रकार जीवन में भी हमें कभी हार नहीं मानना चाहिए। लगातार प्रयास करते रहना चाहिए सफलता एक न एक दिन अवश्य मिलेगीं। 

महान व्यक्तियों के जीवन के प्रेरक प्रसंग 

—————————————–

दोस्तों झगड़ालू साधू :Moral story of Swami Dayanand Sarasvati in hindi| में दी गई जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया हमारे फेसबुक(Facebook) को Like & Share अवश्य करें। 

हमारे द्वारा दी गई जानकारी में कुछ त्रुटी लगे या कोई सुझाव हो तो comment करके सुझाव हमें अवश्य दें।हम इस पोस्ट को update करते रहेंगें। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here