जंक फ़ूड के बारे में रोचक तथ्य

0
86

जंक फ़ूड के बारे में रोचक तथ्य/Junk-food-fact-in-hindi

तेजी से बदलते सामाजिक परिवेश में जैसे ही जैसे लोगों का आर्थिक स्तर बढ़ा हैं वैसे ही वैसे घर से बाहर खाने व् फ़ास्ट फ़ूड का प्रचलन बढ़ा हैं. हम सभी अब ready to eat  खाद्य पदार्थो का इस्तेमाल करने लगे हैं जबकि आज से लगभग 20 -25  वर्ष पूर्व हम अपने घर पर ही बने खाद्य पदार्थो का इस्तेमाल करते थे घर पर ही हमारी माँ या बहन चिप्स , पापड़ , आचार, जेम आदि बनाती थी .

आज कल हम देख रहे है की शाम होते ही हमारे घर के आस पास बर्गर , चाउमीन, मोमोज ,स्प्रिंगरोल और पता नहीं किस किस तरह के स्टाल खड़े हो जाते है और उन पर युवाओ की भीड़ इकट्ठी रहती हैं ,जबकि पास ही कोई जूस की दुकान है तो वह खाली मिलेगी.

जीवन शैली में तेजी से आ रहे  इस बदलाव से और असंतुलित खानपान ,पैदल चलने के बजाय वाहनों पर निर्भरता और व्यायाम से परहेज हमे डायबिटीज व् हार्ट अटैक जैसी जानलेवा बीमारियों से ग्रसित हो रहे है .

1- जंक फ़ूड शब्द का प्रयोग सबसे पहले १९७२ में किया गया था .जिसका अर्थ है  high in calorie but low in nutritional content.

2- जंक फ़ूड वो आहार है जो हम मुख्यतः अल्पहार के समय खाते हैं

3- वो सभी खाद्य पदार्थ जो ready to eat होते हैं या बहुत जल्दी जल्दी तेज मिर्च मशालो के द्वारा तैयार करे जाते है , वो जंक फ़ूड की श्रेणी में आते है जैसे – चिप्स ,फ्रेंच फ्राइज , पीजा , बर्गर ,नुडल्स, चाट पकौड़ी ,समोसा , बोतल बंद पेय पदार्थ  आदि

4- आज जिस तेजी से ह्रदय संबधी बीमारियाँ व् मोटापा बढ़ रहा हैं उसका मुख्य कारण जंक फ़ूड / फ़ास्ट फ़ूड हैं.

5- एक अध्धयन से पता चला है की जो लोग नियमित रूप से फ़ास्ट फ़ूड का इस्तेमाल करते है उनका मस्तिष्क सिकुड़ जाता है जिससे उन्हें भूलने के बीमारी भी हो सकती हैं.

6- F A O ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट मे बताया है की विश्व की 12.5 प्रतिशत आबादी कैलोरी के हिसाब से कुपाषित हैं और 26 प्रतिशत बच्चो का विकास नहीं हो पाया हैं .

7- केरल में रेस्टोरेंट चैन में बिकने वाले पीजा , बर्गर व् अन्य दुसरे जंक फूड्स पर 14.5 प्रतिशत का फैट टैक्स लगता हैं.

8- स्कूलों के कैंटीनों में मिलने वाले जंक फ़ूड पर रोक लगा दी गई हैं , high sugar ,high fat ,high  salt युक्त ये जंक फ़ूड बच्चों में हाइपरटेंशन , क्रोनिक इन्फ्लेमेशन ,टाइप टू डायबिटीज और ह्रदय रोग फेला रहें हैं .

9- अमेरिका , चीन के बाद भारत तीसरा ऐसा देश है जहां मोटापा तेजी से अपने पैर पसार रहा हैं.

10- पास्ता , पीजा ,बर्गर और नूडल्स का अधिक सेवन और शारीरिक सक्रियता कम होने से लड़कियां मोटी हो रही हैं जिससे आगे चलकर बाँझपन की बीमारियाँ पैदा हो रही हैं.

11-F A O की एक रिपोर्ट के अनुसार कुपोषण की कुल लागत विश्व की कुल GDP का 2 से 3 प्रतिशत है जो कि प्रतिवर्ष लगभग 1400 से २१०० अरब डालर बैठता हैं .

12-आस्ट्रेलिया की डेकिन यूनिवर्सिटी स्कूल आँफ मेडिसन के दुवारा किये गये अध्ययन से पता चला है कि जो लोग जंक फ़ूड पर निर्भर रहते है उनके दिमाग का एक हिस्सा ( मेमोरी और मष्तिस्क ) जो कि सीखने के लिए जरुरी अंग माना जाता है सिकुड़ कर छोटा हो जाता हैं

14-जंक फ़ूड भूख तो मिटाते है लेकिन इसमें जरूरी प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट व अन्य पोषक तत्व नहीं होते है . जिससे शरीर को उर्जा मिलती हैं . अत :  जंक फ़ूड कहने से शरीर कि उर्जा समाप्त होने लगती हैं  जिससे हमें थकान महसूस होने लगती हैं .

15- जंक फ़ूड को एक ही तेल में बार -बार तला जाता है जिससे ये तेल पेट में जाकर पाचन तंत्र को ध्वस्त कर देता है और एसिडिटी कि समस्या होने लगती है .

16- जो किशोर जंक फ़ूड का अधिक इस्तेमाल करते है उनके शरीर के हार्मोन का संतुलन बिगड़ जाता हैं. जिसके फलस्वरूप उनके स्वभाव में परिवर्तन होने लगता हैं और किशोरों के अवसाद में जाने की संभावना बढ़ जाती है .

17-जंक फ़ूड में बहुत अधिक मात्रा में रिफ़ाइन्ड शुगर होती हैं जो पाचन दर को slow कर देती हैं . शरीर में ब्लड शुगर का खतरा बढ़ जाता हैं .

18- जंक फ़ूड में ट्रांस फैट बहुत अधिक मात्रा में होता हैं जो लिवर में जाकर जम जाता हैं जिससे लिवर सामान्य रूप से काम करना बंद कर देता हैं .

19-जंक फ़ूड मेटाबोलिज्म को प्रभावित करता है जिससे शरीर इन्सुलिन का इस्तेमाल अच्छी तरह से नहीं कर पाता हैं और डाइबिटीज  का खतरा बढ़ जाता हैं .

20- ताजा हुए अनुसन्धान से पता चलता है कि उच्च मात्रा में शुगर और फैट युक्त खाना खाने से कैंसर कि संभवाना बढ़ जाती है

अवश्य पढ़े :

————————————————————

जंक फ़ूड के बारे में रोचक तथ्यये पोस्ट कैसी लगी, कमेंट द्वारा अवश्य बताये | यदि आपके पास भी कोई motivational article/ motivational story और ब्लॉग सम्बन्धित कोई आर्टिकल हैं और आप उसे हमारे साथ शेयर करना चाहते हैं तो onlinedost4u@gmail.com par भेजें /जिसे आपके नाम व फोटो सहित प्रकाशित किया जायेगा |

Thanku 🙂

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here