लालची व्यक्ति Greedy person Guru Nanak Dev ji prerak prasang

0
586 views

लालची व्यक्ति Greedy person

Guru Nanak Dev ji prerak prasang
Guru Nanak Dev ji prerak prasang

Guru Nanak Dev ji prerak prasang

Guru Nanak Dev ji prerak prasang. यह प्रसंग उस समय का हैं जब गुरु नानक देव जी अपने शिष्यों बाला और मरदाना के साथ एक गाँव से दूसरे गाँव घूम-घूम कर उपदेश दिया करते थे। यह गर्मियों का मौसम थागुरु नानक देव जी काफी देर से पैदल चले जा रहे थेप्यास के कारण उनके शिष्य मरदाना का बुरा हाल था

दूर-दूर तक कही कोई कुआँ नही दिखाई दे रहा थातभी उन्हें दूर एक कुआं दिखाई दियायह सोचकर की वहां तो प्यास बुझ ही जाएगी वह गुरु जी की आज्ञा लेकर तेजी से कुँए की ओर बढ गया। जब वह कुँए पर पहुंचा, तो कुए के मालिक ने उसे पानी नहीं पीने दिया और पानी के बदले उससे धन की मांग कीदरअसल कुँए  का मालिक बहुत ही लालची व्यक्ति थाजो भी व्यक्ति कुँए के  पानी का प्रयोग करना चाहता वह उससे धन वसूल करता था।

मरदाना उस लालची व्यक्ति के व्यवहार से बहुत ही दुखी हुआ उसने सारा वर्तांत जाकर गुरु नानक जी को बताया। 

यह सुनकर गुरु नानक देव जी मरदाना को पुनः उस लालची व्यक्ति के पास पानी के लिए भेजा पर उस लालची व्यक्ति ने मरदाना को डाँटते हुए कहा की यदि तुम्हारे पास पानी का मूल्य चुकाने के लिए धन नहीं हैं, तो मेरा समय मत बर्बाद करो और यहाँ से चले जाओ

मरदाना फिर उदास मन से गुरु नानक देव जी के पास पहुंचा और सारा वर्तांत गुरु जी को बता दिया

गुरु जी ने मरदाना से कहा कि मैं इस लालची व्यक्ति को 3 मौके देता हूँतुम एक बार फिर जाकर प्रयास करो लेकिन जब मरदाना उस लालची व्यक्ति के पास पहुंचा तो उसने मरदाना और गुरु नानक देव जी के लिए बहुत ही बुरा भला कहा

मरदाना उस व्यक्ति के व्यवहार से बहुत ही दुखित हुआमरदाना का चेहरा देखकर गुरु नानक देव जी समझ गये कि अब उस लालची व्यक्ति को सबक सिखाना ही पड़ेगा

उन्होंने एक लकड़ी उठाई और एक छोटा सा गोल घेरा खींच दियाउस लकड़ी से गड्ढा खोदने लगे अभी थोड़ा सा ही गड्ढा खुदा था कि उसमें से साफ पानी की धार निकल पड़ीउस पानी से उन सभी ने अपनी प्यास बुझाई थोड़ी ही देर में पास के गाँव वालों को इस बात की खबर लगी तो वो भी दौडकर उस जल धारा के पास आये अपने जरूरतों को पूरा करने के लिए पानी भरने लगे

अब सभी गाँव वाले गुरु जी का गुण गान करने लगे क्योकिं वे सब भी उस लालची व्यक्ति से परेशान थे वो उनसे भी पानी का शुल्क वसूल करता था

इधर धीरे-धीरे उस लालची व्यक्ति के कुँए का पानी सूखने लगाजब उस व्यक्ति ने ये चमत्कार देखा तो वह घबरा गया दौड़कर गुरु नानक देव जी के पास पहुंचा और अपने व्यवहार के लिए चरणों में गिरकर माफ़ी मांगने लगा

For More Read – महान व्यक्तियों के जीवन के प्रेरक प्रसंगों का विशाल संग्रह
Similar Post-

दोस्तों  लालची व्यक्ति Greedy person Guru Nanak Dev ji prerak prasang| में दी गई जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया हमारे फेसबुक(Facebook) को Like & Share अवश्य करें। 

हमारे द्वारा दी गई जानकारी में कुछ त्रुटी लगे या कोई सुझाव हो तो comment करके सुझाव हमें अवश्य दें।हम इस पोस्ट को update करते रहेंगें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here