मस्तिष्क आघात या ब्रेन स्ट्रोक को कैसे पहचाने| brain stroke in hindi

0
549 views

brain-stroke-in-hindi

मस्तिष्क आघात या ब्रेन स्ट्रोक को कैसे पहचाने/ How to recognize brain trauma or brain stroke

मस्तिष्क आघात जिसे हम ब्रेन स्ट्रोक या ब्रेन -हैमरेज भी कहते हैं | इसका आम बोल -चाल की भाषा में इसका एक दूसरा नाम  दिमाग की नस फटना भी होता हैं |(Brain trauma which is also called brain stroke or brain-hammer. In common language – its second name is vein burst of the brain.)

मष्तिस्क आघात को एक छोटी से घटना द्वारा समझाने का प्रयास किया जा रहा है |(we can understand the traumatic stroke by a small incident.)

दोस्तों एक शादी की एक पार्टी चल रही थी | राहुल जो कि 48 वर्ष का एक खुश मिजाज व्यक्ति था | वह शादी  कि पार्टी एन्जॉय कर रहा था | जैसे ही वह खाने कि प्लेट में खाना ले रहा था अचानक ही झटका सा लगा और वह गिरते – गिरते संभला |उसकी पत्नि ने पूछा तो उसने कहा  कुछ नही बस हल्का का चक्कर आया था पर अब वह बिलकुल ठीक है तुम शादी कि पार्टी एन्जॉय करो |(Friends, a wedding party was going on.Rahul, who was a happy mood person  of age 48 years. She was enjoying the wedding party.As soon as he was eating food , suddenly he felt a shock and he would fall down .When his wife asked him, he said nothing was just a light shok. Now he is absolutely fine, you enjoy the wedding party.)

उस शाम उसने आधी रात तक पार्टी एन्जॉय की, लगभग 12 बजे रात्रि में उसकी तबियत बिगड़ गयी और अस्पताल ले जाते समय उसने दम तोड़ दिया |(That evening he enlisted the party till midnight, At around 12 o’clock in the night, his health deteriorated and on the way of hospital he died.)

दोस्तों वास्तिवकता तो ये हैं कि उस समय राहुल को ब्रेन -स्ट्रोक आया था | पर वह न तो स्वम इसे समझ पाया और न ही उसके साथ वाले, अगर कोई भी उसकी अवस्था को समझ लेता तो आज राहुल उनके बीच होता |(Friends, in reality, Rahul came to Brainstrokes at that time. But he neither understood himself nor his friend. If anyone understood his state, then today Rahul would be among them.)

ब्रेन स्ट्रोक से कुछ लोग बच भी जाते है पर वे सारी उम्र अपाहिज और बेबसी में ही जीवन जीने के लिए बाध्य हो जाते हैं|(Some people survive with brain stroke, But whole life they are bound to live life in helplessness.)

ब्रेन स्ट्रोक को कैसे पहिचान करें-

एक न्यूरोलोजिस्ट के अनुसार अगर स्ट्रोक का शिकार व्यक्ति को  3 घंटे के अन्दर यदि सही उपचार मिल जाए तो उसका जीवन बच सकता हैं और वो लम्बे समय तक एक खुशहाल जीवन बिता सकता हैं | इसमें सबसे महत्वपूर्ण बात यह हैं कि स्ट्रोक के मरीज को सही समय पर पहिचानना और उसे सही चिकित्सा दिलवाना |पर यह सब हम पहिचान नही पाते |(According to a neurologist, if a victim of stroke gets correct treatment within 3 hours then his life can be saved.And that can last a happy life for a long time. The most important thing is to identify the stroke patient at the right time and get the right treatment.)

Read: स्लीप डिसऑर्डर कारण,लक्षण और उपचार 

तीन बातें(Three things)- स्ट्रोक के मरीज को पहिचान के लिए तीन बातें आवश्यक है जो हमें हमेशा याद रखनी चाहिये जिसको आसानी से याद रखने के लिए हमें याद रखना है(Three things are necessary for the stroke patient to recognize, which we should always remember, to remember easily, we have to remember) S T R

हम किसी से भी हमे केवल तीन प्रश्नों के माध्यम  से ये जान सकते है कि वह ब्रेन स्ट्रोक का मरीज है या नही(We can know from anyone through only three questions that he is a patient of brain stroke or not ) ……..

 

S-Smile आप किसी भी व्यक्ति को मुस्कराने के लिए कहिये |(Ask that person to smile.)

T- Talk उस व्यक्ति को कोई भी एक सीधा सा वाक्य बोलने के लिए कहिये जैसे -आज मौसम बहुत अच्छा हैं |(Ask the person to speak a simple sentence as  – the weather is very good today.

R-Raise  उस व्यक्ति को दोनों बाजू ऊपर उठाने के लिए कहें |(Ask the person to raise both hands.

यदि उस व्यक्ति को इन तीनों कामों में से किसी एक भी काम में दिक्कत हो तो उसे तुरंत किसी अच्छे अस्पताल में एम्बुलेंस बुलाकर शिफ्ट करा दे और डॉक्टर को वे सभी लक्षण बता दे |(If the person has trouble in any of these three works, then we should immediately call the ambulance of a good hospital and shift  that person and tell the doctor all these symptoms.)

ब्रेन स्ट्रोक का एक अन्य महत्व पूर्ण  लक्षण यह भी हैं (Another important symptoms of brain stroke)–

उस व्यक्ति को जीभ बाहर निकालने को कहें | यदि जीभ सीधी बाहर नहीं आ रही और एक तरफ कुछ मुड़ी हुई से प्रतीत हो रही हैं तो भी यह स्ट्रोक का एक महत्वपूर्ण लक्षण है |(Ask the person to take out the tongue. If the tongue is not coming straight out and it seems to be a bit curled on one side,  it is also an important symptom of stroke.)

दोस्तों हमारी थोड़ी सी जानकारी किसी की जान बचा सकती हैं |इस पोस्ट को प्रकाशित करने का उद्देश्य ब्रेन स्ट्रोक के बारे में जागरूप करना है क्योकि बदलती जीवन शैली से ये समस्या बहुत तेजी है हमारे समाज में फेलती जा रही है | यदि हम किसी एक का भी जीवन बचा पाए तो ये हमारे लिए बहुत बड़ी उपलब्धि होगी |(Friends, our little information can save somebody’s life. The objective of publishing this post is to make awareness about brain stroke, because with changing lifestyle, this problem is growing very fast, it is becoming increasingly difficult in our society. If we can save the life of any one, then this will be a huge achievement for us.)

————————————————————–

मस्तिष्क आघात या ब्रेन स्ट्रोक को कैसे पहचाने, ये पोस्ट कैसी लगी, कमेंट द्वारा अवश्य बताये | यदि आपके पास भी कोई motivational article/ motivational story हैं और आप उसे हमारे साथ शेयर करना चाहते हैं तो onlinedost4u@gmail.com par भेजें /जिसे आपके नाम व फोटो सहित प्रकाशित किया जायेगा |

Thanku 🙂

अन्य महत्वपूर्ण पोस्ट

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here