नेल्सन मंडेला का जीवन परिचय| Biography of Nelson Mendela in hindi

0
685 views

नेल्सन मंडेला का जीवन परिचय

 Biography of Nelson Mendela in hindi

Biography of Nelson Mendela in hindi

Biography of Nelson Mendela in hindi|दक्षिण अफ्रीका में लोग नेल्सन मंडेला को उनके रंगभेद विरोधी संघर्ष में उनके योगदान के कारण सम्मान के रूप में लोकतंत्र के  प्रथम संस्थापकराष्ट्रपिता, राष्ट्रीय मुक्तिदाता और उद्धारकर्ता, के साथ – साथ मदीबा के नाम से भी पुकारते हैं।

नामनेल्सन मंडेला (Nelson Mendela)
जन्म18 जुलाई 1918, म्वेजो, केप प्रान्त , दक्षिण अफ्रीका
मृत्यु5 दिसंबर 2013, ह्यूस्टन जोहान्सबर्ग , दक्षिण अफ्रीका
मातानेक्यूफी नोसकेनी
पिता हेनरी म्फ़ाकेनिस्वा

प्रारंभिक जीवन

नेल्सन मंडेला का जन्म 18 जुलाई 1918 को म्वेज़ो, ईस्टर्न केप, दक्षिण अफ़्रीका को हुआ था। इनके पिता का नाम हेनरी म्फ़ाकेनिस्वा तथा माँ का नाम नेक्यूफी नोसकेनी था। ये अपने पिता की सभी 13 संतानों में तीसरे तथा अपनी माँ की प्रथम संतान थे। इनके पिता म्वेजो कबीले के सरदार थे। वहां कबीलाई भाषा में मंडेला नाम का शाब्दिक अर्थ सरदार का पुत्र होता है।

मंडेला ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा क्लार्क बेरी मिशनरी स्कूल में पूरी की।उसके बाद की स्कूली शिक्षा मेथोडिस्ट मिशनरी स्कूल से प्राप्त की।उनकी स्नातक की शिक्षा अश्वेतों के लिए बनाये गए विशेष कालेज  हेल्डटाउन में हुई। यही पर उनकी मुलाकात ‘ओलिवर टाम्बो‘ से हुई, जो जीवन भर नेल्सन मंडेला के सहयोगी व् मित्र बने रहे। कॉलेज में ही वे राजनीति में हिस्सा लेने लगे जिसके कारण उन्हें कॉलेज से निकाल दिया गया।

राजनीतिक जीवन

1941 में वे जोहान्सबर्ग चले गये और राजनीति के साथ वे एक क़ानूनी फर्म में नौकरी करने लगे।उस समय रंग के आधार पर हर जगह भेदभाव होता था। इसके विरुद्ध अफ्रीकन नेशनल कांग्रेस एक आन्दोलन चला रही थी। इसलिए वे 1944 अफ्रीकन  नेशनल कांग्रेस में शामिल हो गए।

1944 में ही नेल्सन मंडेला ने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर अफ्रीकन नेशनल कांग्रेस यूथ लीग की स्थापना की और 1947 में वे लीग के सचिव चुने गए।

1961 में नेल्सन मंडेला और उनके सहयोगियों पर देशद्रोह  का मुकदमा चला पर वे सभी निर्दोष साबित हुए।

नेल्सन मंडेला को पुनः 5 अगस्त 1962 को मजदूरो को उकसाने व् देश छोड़ने के जुर्म में गिरफ्तार कर लिया गया और उन पर मुकदमा चला। जिसमे 12 जुलाई 1964 को उन्हें उम्र कैद की सजा सुनाई गई। उन्हें राबिन द्वीप के जेल में भेजा गया वहां भी मंडेला ने अश्वेतों को एकजुट करने का प्रयास किया।

27 वर्षो की सजा काटने के बाद वे 11 फरवरी 1990 को रिहा हुए|इसके बाद उन्होंने शांति और समझौते की नीति चलते हुए एक बहुजातीय लोकतान्त्रिक अफ्रीका की नींव रक्खी।

1994 में अफ्रीका में चुनाव हुए जिसमें अफ्रीकन नेशनल कांग्रेस ने 62 प्रतिशत वोट प्राप्त कर सरकार बनाई। इस प्रकार 10 मई 1994 नेल्सन मंडेला  दक्षिण अफ्रीका के प्रथम अश्वेत राष्ट्रपति बने। मंडेला ने 1997 में सक्रिय राजनीति से स्वम को दूर कर लिया तथा 1999 में अफ्रीकन नेशनल कांग्रेस के अध्यक्ष पद भी छोड़ दिया।

नेल्सन मंडेला महात्मा गाँधी जी की अहिंसक विचार धारा से बहुत ही प्रभावित थे।

व्यक्तिगत जीवन

मंडेला ने तीन विवाह किये जिनसे उन्हें 6 संताने हुई| इन्होने अपना पहला विवाह 1944 में अपने मित्र वॉल्टर सिसुलू की बहन इवलिन मेस से शादी की। दूसरा विवाह नोमजामो विनी मेडीकिजाला 1961 में किया। जिनसे इनकी मुलाकात एक मुक़दमे के दौरान हुई थी। तीसरा विवाह 1998 में अपने 80 वें जन्मदिन पर उन्होंने ग्रेस मेकल से विवाह किया।

मृत्यु

नेल्सन मंडेला की मृत्यु 95 वर्ष की आयु में फेफड़ों में संक्रमण के कारण 5 दिसंबर 2013 को जोहान्सबर्ग में अपने घर पर हो गई थी। उनकी मृत्यु की घोषणा राष्ट्रपति जैकब जुमा ने की थी।

अन्य उपलब्धियां

  •  भारत रत्न पुरस्कार
  • निशान ए पाकिस्तान
  • गाँधी शांति पुरस्कार(2008)
  • ऑर्डर ऑफ़ लेनिन
  • प्रेसीडेंट मैडल ऑफ़ फ़्रीडम
  • नोबल शांति पुरस्कार पूर्व रास्ट्रपति फ्रेडरिक विलेम डी क्लार्क के साथ (1993)

रंगभेद को मिटाने में उनके उल्लेखनीय योगदान के लिए संयुक्त राष्ट्र महासभा 18 जुलाई मंडेला दिवस मनाने की घोषणा की|

अवश्य पढ़े : जीवन को उर्जा देते नेल्सन मंडेला के अनमोल सुविचार| Nelson Mandela Quotes in Hindi

—————————————————————

दोस्तों यदि आपके पास स्वर्ण नेल्सन मंडेला का जीवन परिचय| Biography of Nelson Mendela in hindi में ओर जानकारी हैं, या हमारे द्वारा दी गई जानकारी में कुछ त्रुटी लगे या कोई सुझाव हो तो comment करके सुझाव हमें अवश्य दें।हम इस पोस्ट को update करते रहेंगें। 

दोस्तों यदि आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगी हो तो उसे like और share अवश्य करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here